प्रदोष व्रत के फल से सभी मनोकामनाएं होती है पूरी, पढ़िए व्रत की विधि और कथा

हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार प्रदोष व्रत कलियुग में अति मंगलकारी और भगवान शिव की कृपा प्रदान करनेवाला होता है। प्रत्येक पक्ष की “त्रयोदशी तिथि” के व्रत को “प्रदोष व्रत” कहते हैं। संध्याकाल … Read More “प्रदोष व्रत के फल से सभी मनोकामनाएं होती है पूरी, पढ़िए व्रत की विधि और कथा”

रविवार (सूर्यदेव) व्रत कथा

यह उपवास सप्ताह के प्रथम दिवस इतवार को रखा जाता है। माना जाता है कि सृष्टि का आरंभ सूर्योदय के साथ हुआ था, उस वक्त सूर्य की होरा होने के … Read More “रविवार (सूर्यदेव) व्रत कथा”

शनिवार (शनिदेव) व्रत कथा

शनिदेव न्याय के देवता है, ग्रहमण्डल में उन्हें न्यायाधीश की जिम्मेदारी मिली हुई है। अक्सर लोग भूलवश शनिदेव को क्रूर देवता मान लेते है जबकि सच ये है कि शनिदेव … Read More “शनिवार (शनिदेव) व्रत कथा”

शुक्रवार (संतोषी माता) व्रत कथा

शुक्रवार के दिन माँ संतोषी की पूजा का विधान है। माना जाता है कि अगर कोई स्त्री माँ संतोषी की विधि विधान से पूजा करती है, शुक्रवार का व्रत रखकर … Read More “शुक्रवार (संतोषी माता) व्रत कथा”

बृहस्पतिवार (गुरुवार) व्रत कथा

गुरुवार का व्रत मुख्यतः भगवान श्रीहरि विष्णु और देवगुरु बृहस्पति को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है। जिसकी कुंडली मे गुरु भारी हो उसे भी बृहस्पतिवार का व्रत करने … Read More “बृहस्पतिवार (गुरुवार) व्रत कथा”

बुधवार व्रत कथा

बुधवार को बुधदेव का दिन माना जाता है और इसका संबंध बुद्धि या ज्ञान से होता है, वहीं बुध ग्रह ज्ञान, कार्य, बुद्धि, व्यापार आदि का कारक है। यदि किसी … Read More “बुधवार व्रत कथा”

मंगलवार व्रत कथा

सनातन हिंदू धर्म में सप्ताह के सभी दिनों का अपना ही एक विशेष महत्व है, और प्रत्येक दिन को अलग-अलग देवताओं की पूजा-अर्चना के लिए निर्धारित किया गया है। मंगलवार … Read More “मंगलवार व्रत कथा”

सोमवार व्रत कथा

हिन्दुबुक के पन्नो से आज हम अपने पाठकों के लिए लेकर आ रहे है सोमवार व्रत का सम्पूर्ण महात्म्य। भारतीय परंपरा और हिंदू धर्म में तीज-त्योहारों का अपना ही विशेष … Read More “सोमवार व्रत कथा”


Notice: Undefined variable: user_display_name in /home/thelkljs/hindubook.in/wp-content/plugins/secure-copy-content-protection/public/class-secure-copy-content-protection-public.php on line 733
You cannot copy content of this page